धरती माँ के ऊपर ख़ून बहे ऐसा कोई काम आप ना करो बाबा उमाकांत जी महाराज

जयगुरुदेव

धरती माँ के ऊपर ख़ून बहे ऐसा कोई काम आप ना करो
बाबा उमाकांत जी महाराज
Anchor- भारत नहीं बल्कि पूरे विश्व की भलाई चाहने वाले उज्जैन के “महात्मा पूज्य संत बाबा उमाकान्त” जी महाराज ने भक्तों को सन्देश दिया कि मनुष्य माँ से जन्म लेने के बाद धरती पर पैर रखता है इसलिए ये धरती भी माता है। इस कारण आप ऐसा कोई काम ना करो जिससे इस धरती पर ख़ून बहे मां 9 महीना अपने पेट में बच्चे को रखने के बाद बच्चा जब धरती में पैर रखता है तो धरती भी मां है तो प्रेमियों आप कोई ऐसा काम मत करो कि धरती को खतरा पैदा हो जाए धरती माता गंदी हो जाए आप जैसे अपनी माता को कपड़ा पहनाते हो नंगी नहीं देख सकते हो वैसे ही यह धरती माता की शोभा है क्या यह पेड़ और पौधे नदी और नाले ये पत्थर तो इसकी शोभा को आप बनाए रखो इसे खत्म मत करो और इस धरती पर खून न बहने पाए आप ऐसा कोई काम ना करो जिससे यह धरती माता खून से लथपथ हो जाए अब बहुत से ऐसे तरीके हैं कि इसको गंदा होने से इस को बचाया जा सकता है तो आप इस पर विचार करते रहो कि हम इसको खुद ना गंदा करें और जो गंदा करने की नियत बनाए हुए हैं उनको ये समझाते रहे की ये मां है इनको गंदा मत करो मां के ऊपर खून न बहने दो इनको कलंकित मत करो यह समझाते रहो।।
जयगुरुदेव
परम् सन्त बाबा उमकांत जी महाराज
आश्रम उज्जैन (मध्य प्रदेश) भारत